ऊंची इमारत में लंबे हुए रोज़े!

बुर्ज ख़लीफ़ा इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption बुर्ज ख़लीफ़ा में कुल 160 मंज़िल हैं.

मौलवियों की मानें तो दुनिया की सबसे ऊंची इमारत दुबई के बुर्ज ख़लीफ़ा में रहने वालों के लिए रोज़े लंबे होने चाहिए.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने दुबई के मौलवी अहमद अब्दुल अज़ीज़ अल हदाद के हवाले से बताया है, ''बुर्ज ख़लिफ़ा लगभग एक किलोमीटर लंबा है. इसका मतलब है कि धरती पर सूर्यास्त होने के बाद भी ऊंची मंज़िलों पर रहने वाले लोग सूरज को देख सकते हैं.''

दुबई के मौलवियों का कहना है कि ऊंची मंज़िलों पर रहने वाले लोग ज़मीन पर रहने वालों के मुकाबले दो मिनट देर से रोज़ा तोड़ें.

एक अन्य मौलवी मोहम्मद अल क़ुबैसी का कहना है कि 80 मंज़िल से ऊपर रहने वालों को अतिरिक्त दो मिनट जबकि 150वीं मंज़िल से ऊपर रहने वालों को अतिरिक्त तीन मिनट रोज़ा रखना चाहिए.

कुल 160 मंज़िल

बुर्ज ख़लीफ़ा में कुल 160 मंज़िल हैं. इस इमारत का उदघाटन 2010 में हुआ था.

मौलवियों का कहना है कि इस्लामी क़ानून में इस तरह की मिसाल मौजूद है.

मौलवी मोहम्मद अल क़ुबैसी का कहना है कि इसी नियम के तहत पहाड़ों पर रहने वालों को भी ज़मीन पर रहने वालों के बाद अपना रोज़ा तोड़ना चाहिए.

रमज़ान के पवित्र महीने की शुरुआत पिछले हफ्ते हुई है.

संबंधित समाचार