प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

25 लाख नहीं भारत में पांच करोड़ समलैंगिक

भारत सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि देश भर में समलैंगिकों की संख्या करीब 25 लाख है और इनमें से करीब सात प्रतिशत एचआईवी से संक्रमित हैं.

लेकिन समलैंगिकों के अधिकारों के लिए काम कर रही संस्थाओं और इससे जुड़े लोग इन आंकड़ों से सहमत नहीं हैं.

हमारे सहयोगी समीरात्मज मिश्र ने ऐसी ही एक संस्था के कार्यकर्ता और वकील आदित्य बंद्योपाध्याय से बात की और सबसे पहले यही सवाल पूछा कि ये आंकड़े कितने सही हैं और इन्हें जुटाने का तरीका क्या था सरकार के पास.