प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'अमरीका, ईरान के बीच फंसा भारत'

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने फ़ैसला किया है कि दुनिया के बाज़ार में इतना ग़ैर-ईरानी तेल मौजूद है कि जिससे ईरान से लिए जाने वाले तेल में काफ़ी कमी लाई जा सकती है.

अमरीका की कोशिश है कि ईरान पर दबाव बढ़ाया जाए जिससे वो अपना विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम रोक दे.

जून के बाद ईरान के केंद्रीय बैंक के माध्यम से तेल खरीदने वाले संस्थागत निवेशकों पर अमरीकी प्रबंध लागू होंगे, लेकिन 10 यूरोपीय देश और जापान इस प्रतिबंध के दायरे में नहीं आएँगे. ईरान पर यूरोपीय देशों के प्रतिबंध जून से प्रभाव में आएंगे.

अमरीकी थिंकटैंक स्ट्रैटफोर में अंतराष्ट्रीय मामलों के जानकार कामरान बोखारी से बात की बीबीसी संवाददाता विनीत खरे ने.