प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

इंडिया बोल: मीडिया में दलितों की स्थिति

जाने माने सामाजिक विश्लेषक रॉबिन जेफ़री ने पिछले दिनों दिल्ली में राजेंद्र माथुर स्मृति व्याख्यान में भारतीय मीडिया में दलितों की स्थिति की चर्चा की. उन्होंने बताया कि मीडिया के प्रमुख 300 नीति निर्धारकों से दलित नदारद हैं.

प्रोफ़ेसर जेफ़री के अनुसार भारतीय संविधान में समानता और सौहार्द की जो भावना है वह तब तक पूरी नहीं होगी जब तक लोकतंत्र के इस चौथे स्तंभ में दलित वर्ग के लोगों को उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिलता. वह कहते हैं जब न्यूज़रूम में विविधता होगी तो वो विविधता समाचार माध्यमों के कवरेज में भी दिखेगी. मीडिया में दलितों के प्रतिनिधित्व से जुड़े इसी विषय पर शनिवार को इंडिया बोल में हुई चर्चा में वरिष्ठ पत्रकार शुभ्रांशु चौधरी भी शामिल हुए. पूरा कार्यक्रम सुनने के लिए क्लिक करें.