प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

तालिबान के हमले के मायने

  • 15 अप्रैल 2012

रविवार को अफ़गानिस्तान की राजधानी काबुल में संसद समेत अमरीका, ब्रिटेन, रूस और जर्मनी के दूतावासों और नैटो मुख्यालय पर तालिबान ने हमला किया. काबुल के अलावा तीन अन्य प्रांतों में भी चरमपंथियों ने हमला किया. योजनाबद्ध तरीके से किए गए इन हमलों के ज़रिए आखिर तालिबानी चरमपंथी दुनिया को क्या संदेश देना चाह रहे थे यही जानने के लिए बीबीसी संवाददाता अमरेश द्विवेदी ने पाकिस्तान में वरिष्ठ पत्रकार रहीमुल्ला यूसुफ़ज़ई से बात की.