प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

अभयानंद का 'चक-दे बिहार'

इमेज कॉपीरइट b

बिहार के पुलिस महानिदेशक( डीजीपी) अभयानंद की ख़ास पहचान एक बड़े पुलिस अधिकारी के रूप में उतनी नहीं, जितनी सामाजिक सेवा से जुड़े विज्ञानं शिक्षक के रूप में बन पाई है.

ग़रीब या कमज़ोर तबक़े के कई बच्चों को मुफ़्त कोचिंग के ज़रिये आईआईटी इंजीनियर या प्रतिभावान खिलाड़ी बना देने जैसी कामयाबी इनके खाते में दर्ज हो चुकी है.

बहुचर्चित 'सुपर 30' नामक संस्था के अवैतनिक संस्थापक रह चुके अभयानंद से मणिकांत ठाकुर की बातचीत में उनके व्यक्तित्व संबंधी इसी ख़ास पहलू की झलक है.