प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

एक ड्रोन जो फोल्ड हो सकता है

आसमान में उड़ाने भरते लड़ाकू विमान आपने कई बार देखे होंगे. अफगानिस्तान वगैरह में तो मानवरहित विमान या ड्रोन अकसर इस्तेमाल होते हैं. ये ड्रोन काफी बड़े आकार के और महंगे होते हैं. ड्रोन मुख्यत सैन्य अभियानों में गी इस्तेमाल होते हैं. पर .अब आने वाले दिनों में आसमान में ड्रोन को उड़ते देखना आम बात हो सकती है.

ये संभव होगा लघु ड्रोन के बाजार में आने से. इनकी चौड़ाई एक मीटर से भी कम है. ये जीपीएस और टचस्क्रीन कंट्रोल की मदद से संचालित हो सकेंगे. ये माइक्रो ड्रोन तुलना में सस्ते हैं और शौक रखने वाले इन्हें खरीद पाएँगे. एक ड्रोन तो ऐसा है जो फोल्ड भी हो सकता है.

इस बार ब्रिटेन के फार्रनब्रो एयरशो में लघु ड्रोन केंद्रबिंदु में रहे. कंपनियाँ नागरिक कार्यों में ड्रोन के इस्तेमाल की बातें कर रही हैं. जैसे बाढ़ में फसे लोगों को बचाने के लिए, सीमा पर गश्त, फसलों का प्रबंधन आदी. हालांकि इस पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं कि अगर ये लघु ड्रोन गलत हाथों में चले जाएँ तो क्या होगा.

रिसोर्स यूएएस ट्रेनिंग प्रोग्राम के मैनेजर क्रेग लिपेट कहते हैं कि अगर ये तकनीक अच्छी साबित हुई तो पैपराजी भी इसे इस्तामाल कर सकता है. मीडिया भी उपोयग में ला सकता है और इस बात पर बहस होनी चाहिए कि मिनी ड्रोन का इस्तेमाल कितना नैतिक है.

इसके अलावा कई सुरक्षा पहलू भी जुड़े हैं. लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि जोखिम की तुलना में फायदे ज्यादा हैं.