भुट्टो परिवार की कुछ दुर्लभ तस्वीरें

 मंगलवार, 21 अगस्त, 2012 को 05:53 IST तक के समाचार

भुट्टो परिवार: सौ साल के सियासी सफर की तस्वीरें

  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रहे जुल्फिकार अली भुट्टो की शुरुआती पढ़ाई लिखाई मुंबई में हुई और बाद में उच्च शिक्षा के लिए वो ब्रिटेन गए.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    जुल्फिकार भुट्टो इस्कंदर मिर्जा के जरिए सैन्य शासक अयूब खान की कैबिनेट में शामिल हुए और इस तरह उनके राजनीतिक सफर की शुरुआत हुई.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    लेकिन जल्द ही अयूब खान से भुट्टो के मतभेद होने लगे और वो सरकार से अलग हो गए हैं. उन्हें देश की जनता के बीच जाने के लिए ट्रेन मार्च का रास्ता चुना.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    भुट्टो ने 30 नवंबर 1967 को पाकिस्तान पीपल्स पार्टी का गठन किया, जो बाद में देश की सबसे बड़ी पार्टी बनी. इस तस्वीर में जुल्फिकार अली भुट्टो को पार्टी के संस्थापक सदस्यों को साथ देखा जा सकता है.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    पूर्वी पाकिस्तान में भुटटो ने 1970 के चुनावों में आवामी लीग की जीत को स्वीकार नहीं किया और पार्टी के नेता शेख मुजीबुर्रहमान से उनकी बातचीत नाकाम रही. इसी के परिणामस्वरूप बाद में बांग्लादेश बना.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    जुल्फिकार अली भुट्टो व्यापाक जनाधार वाले नेता थे और उनकी बड़ी बड़ी रैलियों से उनके विरोधी रश्क करते थे.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    ये तस्वीर 1973 में पाकिस्तान का नया संविधान मंजूर होने के बाद की है, जिसके बाद भुट्टो देश के पहले निर्वाचित प्रधानमंत्री बने.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो और इंदिरा गांधी
    भारत की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से भुट्टो का छत्तीस का आंकड़ा था क्योंकि उन्होंने बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के लिए भारतीय सेनाओं को पूर्वी पाकिस्तान भेजा था.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो और इंदिरा गांधी
    इस तस्वीर में जुल्फिकार अली भुट्टो इंदिरा गांधी के साथ शिमला समझौते पर हस्ताक्षर कर रहे हैं.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    पाकिस्तान और चीन के संबंध शुरू से ही अच्छे रहे हैं. यहां चीन के नेता चुएन लाई को जुल्फिकार अली भुट्टो के साथ देखा जा सकता है.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    एक बार संयुक्त राष्ट्र में पूर्वी पाकिस्तान (मौजूदा बांग्लादेश) के मुद्दे पर जारी बहस के दौरान भुट्टो ने अपने नोट्स फाड़े और बैठक के बीच में ही उठ कर चले गए. इस घटना के बाद पाकिस्तान में उनकी लोकप्रियता में जबरदस्त इजाफा हुआ.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    जुल्फिकार अली भुट्टो के चारों बच्चेः (बाएं से) बेनजीर भुट्टो, सनम भुट्टो, शाहनवाज भुट्टो और मुर्तजा भुट्टो.
  • बेनजीर भुट्टो
    बेनजीर का बचपन से ही पिता से बेहद लगाव रहा और उन्होंने अपनी इसी बेटी को अपना उत्तराधिकारी बनाया.
  • जुल्फिकार अली भुट्टो
    अपने परिवार के साथ जुल्फिकार अली भुट्टो.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.