डर, मजबूरी के बीच शिविरों में मनाते ईद..

 सोमवार, 20 अगस्त, 2012 को 13:20 IST तक के समाचार

असम के शिविरों में ईद

  • कोकराझार के शिविरों में ईद की नमाज पढ़ी गई.
  • इस कैंप में 7000 के करीब लोग रह रहे हैं. ज्यादा लोगों को शामिल करने के लिए नमाज़ सुबह दो बार पढ़ी गई.
  • लोगों के लिए सामुदायिक रसोई में पकवान बनाए गए.
  • सेवई का खूब मजा आया लेकिन त्योहार पर लोगों को घर की याद सता रही थी.
  • असम में हिसा के बाद लाखों लोग शिविरों में रह रहे हैं. तस्वीर रॉयटर्स
  • शिविरों में ज्यादातर बच्चे और महिलाएं हैं. तस्वीर रॉयटर्स
  • शिविरों में आराम करते लोग. वहां बीमारी फैलने का खतरा भी बना हुआ है. तस्वीर रॉयटर्स

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.