सचिन का सफर

 रविवार, 23 दिसंबर, 2012 को 18:21 IST तक के समाचार
  • बेहद विनम्र सचिन ने 16 साल की उम्र में अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर का आगाज कर दिया था.
  • सचिन दुनिया के अकेले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने शतकों का शतक लगाया. इसलिए वनडे क्रिकेट से उनकी विदाई समकालीन इतिहास की एक बड़ी घटना है.
  • ये तस्वीर है 1999 की जब बकिंघम पैलेस में सचिन ब्रितानी महारानी से मिले थे.
  • क्रिकेट के प्रशंसक उन्हें अपने इस खेल का भगवान मानते हैं.
  • सचिन ने भारतीय टीम की कप्तानी भी की, हालांकि उसमें उन्हें ज्यादा कामयाबी नहीं मिली.
  • उनके साथी खिलाड़ी कहते हैं कि उनकी मौजूदगी ही टीम को मनोबल देने के लिए काफी होती है.
  • जब भारत ने 2001 में दूसरी बार विश्व कप जीता तो टीम ने सचिन को कंधों पर बिठा कर मैदान का चक्कर लगवाया.
  • दुनिया का हर गेंदबाज खुद को भाग्यशाली समझता है जब उसे सचिन का विकेट मिलता है.
  • क्रिकेट पंडितों का कहना है कि शायद ही कोई क्रिकेटर सचिन जैसी बुलंदियों को छू पाएगा.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.