सिंगापुर से लड़की का शव लाया गया

 रविवार, 30 दिसंबर, 2012 को 05:01 IST तक के समाचार

मंज़र जंतर-मंतर का

  • सिंगापुर के माउंट एलिज़ाबेथ अस्पताल से भारतीय लड़की का शव भारत लाया गया है.
  • तस्वीर में देखा जा सकता है कि सिंगापुर अस्पताल के कर्मचारी उनका शव एम्बुलेंस में रख रहे हैं.
  • एम्बुलेंस
    ये वही ऐम्बुलेंस है जिसमें बलात्कार का शिकार हुई भारतीय लड़की का शव रखा गया था.
  • संगम
    इलाहाबाद के संगम पर इस लड़की की याद में रेत पर कुछ इस तरह तस्वीर उकेरी गई.
  • जंतर मंतर
    कड़कड़ाती सर्दी के बावजूद बड़ी संख्या में लोग जंतर-मंतर पर जुटे.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    इससे पहले, सिंगापुर के अस्पताल में भर्ती सामूहिक बलात्कार की शिकार लड़की की मौत की खबर शनिवार सुबह आते ही दिल्ली पुलिस के अवरोधकों के बावजूद बड़ी संख्या में लोग अपना विरोध दर्ज कराने के लिए जंतर-मंतर जा पहुंचे थे.(तस्वीरें: नितिन श्रीवास्तव, बीबीसी संवाददाता)
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    मौत पर शोक जताने वालों में युवा भी बड़ी तादाद में शामिल हुए और जंतर मंतर भी पहुंचे.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    जंतर मंतर पर लोगों की भीड़ बढ़ते ही रेहड़ी वालों ने वहां दुकानें लगा लीं.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    महिलाएं मुंह पर काली पट्टियां बांधकर विरोध जता रही हैं. उन्होंने पीड़िता के नाम पर मोमबत्तियां जलाईं.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    प्रदर्शनकारियों में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो मामले को राजनीतिक रंग देने की फ़िराक में हैं.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    दिल्ली पुलिसकर्मी पिछले कई दिनों से लम्बी ड्यूटी करने के बाद भी ऊर्जा से ओतप्रोत हैं.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    प्रदर्शनकारियों में समाजसेवियों के साथ-साथ बौद्धिक समाज के प्रतिनिधि भी जंतर मंतर पर मौजूद हैं.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    कुछ लोग बंद ज़ुबान से अपनी आवाज़ बुलंद करने के इरादे से जंतर-मंतर पहुंच रहे हैं.
  • जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन
    हर जाति हर मजहब के लोग दिल्ली में सामूहिक बलात्कार की घटना और पीडि़त लड़की की मौत से स्तब्ध हैं

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.