सज गया है आस्था का मेला

 सोमवार, 14 जनवरी, 2013 को 07:27 IST तक के समाचार

सज गया है आस्था का मेला

  • कुंभ मेला
    कुंभ क्षेत्र में बाल औऱ दाढ़ी मूंछ कटा कर स्नान करने से अधिक पुण्य मिलता है, ऐसी मान्यता है. इसकी वजह से बाल काटने वालों की भी खूब चांदी है.(सभी तस्वीरें: सुशील झा)
  • कुंभ मेला
    ये धागे बेचते हैं जो हाथों में पहने जाते हैं. बिजनेस एक तरफ, इस बच्चे को पढ़ने का शौक है.
  • कुंभ मेला
    पंडितों का काम बढ गया है. वैदिक मंत्रोच्चार के ज़रिए आत्म शुद्धि कई लोगों को भाती होगी.
  • कुंभ मेला
    कतार में बैठे ये लोग भक्त नहीं हैं, भिखारी हैं. लोगों से कुछ पैसों की चाहत में हैं, लगे हाथ पुण्य भी मिल जाए तो कोई बुराई नहीं.
  • कुंभ मेला
    ये विज्ञापन है, लेकिन देखिए ज़रा कौन कर रहा है विज्ञापन. खुद भगवान शिव. है न मजेदार.
  • कुंभ मेला
    और ये तेल लगाकर आप माता पार्वती या मीराबाई हो जाएंगे. धर्म और प्रचार साथ साथ चल रहे हैं.
  • कुंभ मेला
    कड़ाके की सर्दी में भी लोग बड़ी संख्या में संगम स्थल पर हैं और सुबह-सुबह स्नान के लिए तैयार हो रहे हैं.
  • कुंभ मेला
    ये स्वयंसेवक घाटों पर तैनात हैं ताकि स्नान के दौरान कोई डूबे नहीं. ये काम स्वयंसेवी संगठन भी करते हैं.
  • कुंभ मेला
    फूल पत्तियों से वैसे तो नदी मैली होती नहीं लेकिन इसे साफ करने की भी व्यवस्था दिखती है.
  • कुंभ मेला
    तापमान भले ही दो डिग्री क्यों न हो जाए, लेकिन स्नान तो होना ही है.
  • कुंभ मेला
    मकर संक्रांति के शाही स्नान के दौरान भी आम लोग डुबकी लगाएंगे. ऐसा अनुमान है कि इस पर्व पर करीब एक करोड़ लोग संगम में डुबकी लगाएंगे.
  • कुंभ मेला
    बाबाजी इटावा से आए हैं...सिर्फ स्नान करने...बोले मेला नहीं बस गंगा है.
  • कुंभ मेला
    बोर्ड के साथ वीआईपी घाट ताकि कोई अनाधिकृत प्रवेश न करे. कोई अनहोनी न होने पाए, इसके लिए पीछे एक स्टीमर भी दिख रही है.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.