प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

भारत को जासूसी से ख़तरा?

  • 6 जुलाई 2013

अपने देश की सुरक्षा के लिए खुफिया एजेंसीयां अक्सर दूसरे देशों पर जासूसी करती हैं.

लेकिन अब न सिर्फ जासूसी का तरीका बदल रहा है, बल्कि उसका दायरा भी. साइबर स्पाइंग से सिर्फ सुरक्षा नहीं, बल्कि व्यापार संबंधी गोपनीय जानकारियां भी चुराई जा रही हैं.

जब ऐसे दावे सामने आए कि अमरीका अपने यूरोपीय दोस्तों और भारत की भी जासूसी कर रहा है तो चिंताएँ और बढ़ गईं.

देर से ही सही, भारत सरकार ने नेशनल साइबर सिक्यूरिटी पॉलिसी की घोषणा की है लेकिन देश में साइबर सुरक्षा में माहिर लोगों की भारी कमी एक बड़ी मुश्किल है.

इस ख़तरे से निबटने की तैयारी के बारे में बता रहे हैं दिल्ली से तुषार बनर्जी.