प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

विशेष: कल हम आज़ाद हो जाएंगे

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस रिपोर्ट में जानिए 14 अगस्त 1947 की घटनाओं के बारे मे.

दिल्ली और कराची में माहौल कुल मिलाकर एक जैसा था. दोनों जगह आदमी, औरतें, बच्चे सड़कों पर थे. दिल्ली में तिरंगा और कराची में पाकिस्तान का झण्डा चौराहों, सड़कों और खंभों पर फहरा रहा था.