प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

पटेल की 550 से ज़्यादा रियासतों को चेतावनी

  • 13 अगस्त 2013

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस सीरीज में जानिए पांच जुलाई 1947 की घटनाओं के बारे मे.

महात्मा गांधी की प्रार्थना सभा में ज़्यादा भीड़ थी. लोगों को उम्मीद थी कि गांधी भारतीय स्वतंत्रता विधेयक के बारे में कुछ कहेंगे. उन्होनें कहा कि इस विधेयक में ज़हर भरा है. देश का बंटवारा ही ज़हर है. पटेल ने 550 से ज़्यादा रियासतों से कहा कि उन्हें दोस्ती की भावना के साथ परिषद में शामिल हो जाना चाहिए. हमें ऐसा कुछ नहीं करना चाहिए कि आने वाली पीढ़ियां हमें कोसें.