प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

माउण्ट बेटेनः सब्जबाग दिखाने के लिए नेहरू मुझे कभी माफ नहीं करेंगे

  • 13 अगस्त 2013

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस सीरीज में जानिए चार जुलाई 1947 की प्रमुख घटनाओं के बारे मे.

मात्र डेढ़ सेकेंड में पेश भारत की आज़ादी का विधेयक. इसके अनुसार भारत और पाकिस्तान दो स्वतंत्र देश बनेंगे. लंदन में उदासीनता का माहौल था, तो भारत में अपेक्षा और उम्मीद का माहौल था.

माउण्ट बेटेन ने क्लीमेंट एटली को लिखा कि गर्वनर जनरल के रुप में किसी एक का पक्ष लेना अनैतिक है. नेहरू और कांग्रेस सब्जबाग दिखान के लिए मुझे कभी माफ नहीं करेंगे.