गुलज़ार
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

गुलज़ार के पसंद की कविताएं

फ़िल्मकार, गीतकार और शायर गुलज़ार का कहना है कि उनके लिए सबसे पसंदीदा कविता का चुनाव कर पाना बेहद मुश्किल है, क्योंकि ऐसा करते ही बाक़ी सारी कविताएं बेकार हो जाती हैं.

लेकिन बीबीसी संवाददाता अमरेश द्विवेदी से हुई एक ख़ास बातचीत में गुलज़ार ने अपनी कुछ पसंदीदा कविताएं सुनाईं.