प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कश्मीर फिर से आऊंगा: ज़ुबिन मेहता

जाने-माने ऑर्केस्ट्रा कंडक्टर ज़ुबिन मेहता का सपना था कश्मीर में कंसर्ट करना. वे बहुत खुश हैं कि उनका यह सपना दुःस्वप्न साबित नहीं हुआ.

'नो टू ज़ुबिन, नो टू इजरायल' का नारा देते हुए ज़ुबिन के संगीत समारोह के विरोध में चरमपंथियों ने घाटी बंद रखी थी.

ज़ुबिन चरमपंथियों के इस आरोप को सही नहीं मानते कि यह कंसर्ट भारत सरकार की कश्मीर में अपनी हुकूमत जारी रखने की एक कोशिश है. यदि मौका मिले तो वे कश्मीर में दोबारा संगीत कार्यक्रम पेश करना चाहते हैं.