प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'जान है तो जहान है'

  • 24 दिसंबर 2013

एएमयू में क़ानून की पढ़ाई कर रही अनम रईस ख़ान का कहना है कि जान है तो जहान है.

एएमयू के कुछ छात्रों से बीबीसी संवाददाता इक़बाल अहमद ने मुसलमानों के चुनावी मुद्दों, उनकी समस्याओं के बारे में बातचीत की.

सुनिए उनसे ये ख़ास बातचीत. सबसे पहले शहाब अहमद ने कहा कि मुसलमानों के मुद्दे भी दूसरे नागरिकों की तरह ही हैं लेकिन उन्हें मीडिया एक ख़ास तरह से पेश करती है.