प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

केजरीवाल ने इस्तीफ़ा देकर सही किया?

दिल्ली विधानसभा से जनलोकपाल बिल प्रस्तुत करवाने में असमर्थ रहने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया.

केजरीवाल पहले ही कह चुके थे कि अगर यह विधेयक पारित नहीं हुआ तो वह सत्ता छोड़ देंगे.

लेकिन जिस दिन से केजरीवाल ने सत्ता संभाली है, उसी दिन से वह सत्ता-विरोधी तेवर अख़्तियार किए हुए थे.

तो इस तरह पूरे 49 दिन सरकार चली.

सवाल यह था कि सत्ता में आने के बाद, कांग्रेस का समर्थन जारी रहने के बावजूद केजरीवाल का इस्तीफ़ा देना क्या सही है?

बहस में हिस्सा लिया दिल्ली सरकार के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया और स्टूडियो में वरिष्ठ पत्रकार राहुल देव ने