फ़ाइल फ़ोटो
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

पाकिस्तान में ज़ख़्म तेज़ाब के

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि पाकिस्तान में महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा और दमन का इतिहास लंबा है.

कभी ग़ैरत के नाम पर, कभी शादी से इनक़ार करने की वजह से और कभी घरेलू झगड़ों के बहाने औरतों पर तेज़ाब फेंक दिया जाता है और जले हुए ज़ख़्म ज़िंदगी भर के लिए चेहरे पर सवालिया निशान छोड़ जाते हैं.

बीबीसी स्वात से सैयद अनवर शाह की रिपोर्ट के साथ संदीप सोनी.