प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

भारत-पाकिस्तानः 'कुछ दोस्ती, कुछ दुश्मनी'

पाकिस्तान में बीबीसी संवाददाता वुसतुल्लाह ख़ान बताते हैं कि कुछ लोगों की नज़र में भारत में भले कांग्रेस की सरकार रहे या भाजपा की पाकिस्तान के बारे में दिल्ली के बुनियादी उसूल वही रहेंगे यानी कुछ दोस्ती औऱ कुछ दुश्मनी. जबकि कुछ पाकिस्तानी लोगों का मानना है कि भारत में ग़ैर कांग्रेस सरकारों के समय पाकिस्तान के साथ भारत के रिश्ते ज़्यादा बेहतर रहे हैं.

आज के पाकिस्तानी मुसलमानों के लिए ताजमहल और लाल क़िले की यादों से ज़्यादा यूएई और सऊदी अरब महत्वपूर्ण है. और भारतीय मुसलमान भी मुस्लिम भाईचारे के रोमांस से ऊपर उठकर दिल की बजाय शायद दिमाग़ से वोट देना सीख गया है.

भारत के चुनावी नतीज़ों के बारे में पाकिस्तान के आम आदमी की क्या राय है? मोदी के बारे में पाकिस्तान में लोग क्या सोचते हैं? सुनिए पूरी रिपोर्ट.