फ़ैशन शो
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

क्यों पीछे छूटा भारतीय फ़ैशन उद्योग?

चकाचौंध, डिजाइनर लेबल, सुपरमॉ़डल - भारत की फैशन इंडस्ट्री की बात करें तो अकसर दिमाग़ में ऐसी ग्लैमरस तस्वीर बन जाती है. ब्राज़ील जैसे देशों के मुकाबले अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय फ़ैशन उद्योग बडा मुकाम क्यों नहीं हासिल कर पाया. बीबीसी के टीवी कार्यक्रम ग्लोबल इंडिया के लिए लंदन से बीबीसी संवाददाता वंदना की विशेष रिपोर्ट.

बीबीसी हिंदी का ग्लोबल इंडिया कार्यक्रम आप ईटीवी नेटवर्क पर देख सकते हैं.

शुक्रवार

शाम साढ़े पाँच बजे – ईटीवी राजस्थान

रात आठ बजे – ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़

शनिवार

रात आठ बजे –ईटीवी उर्दू

पुन: प्रसारण – रात साढ़े आठ बजे –ईटीवी राजस्थान

पुन: प्रसारण – रात साढ़े नौ बजे–ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़

रविवार

पुन: प्रसारण – सुबह 11.00 बजे – ईटीवी के सभी हिंदी चैनल

रविवार – पुन: प्रसारण – सुबह 10.30 बजे – ईटीवी उर्दू