पाकिस्तानी संगीत
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

पाकिस्तान: मुश्किल हुई मौसिक़ी की राह

एक वक्त था जब ग़ज़ल या सूफियाना संगीत की बात हो तो पाकिस्तानी गायकों का नाम आगे रहता था. दुनिया भर में पाकिस्तानी संगीत के चाहनेवाले थे. अब नए अलग संगीत के दौर में पाकिस्तान कहीं पीछे छूटता जा रहा है. कोक स्टूडियो जैसे मंच तो हैं, लेकिन अच्छे संगीत, कॉन्सर्ट्स और मौकों की कमी हो गई है. क्यूं मुश्किल हो रही है पाकिस्तान में मौसिकी की राह? देखिए बीबीसी हिंदी के टीवी कार्यक्रम ग्लोबल इंडिया के लिए नुख़्बत मलिक की रिपोर्ट.

.............

बीबीसी हिंदी का ग्लोबल इंडिया कार्यक्रम आप ईटीवी नेटवर्क पर देख सकते हैं.

शुक्रवार

शाम साढ़े पाँच बजे – ईटीवी राजस्थान

रात आठ बजे – ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़

शनिवार

रात आठ बजे –ईटीवी उर्दू

पुन: प्रसारण – रात साढ़े आठ बजे –ईटीवी राजस्थान

पुन: प्रसारण – रात साढ़े नौ बजे–ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़

रविवार

पुन: प्रसारण – सुबह 11.00 बजे – ईटीवी के सभी हिंदी चैनल

रविवार – पुन: प्रसारण – सुबह 10.30 बजे – ईटीवी उर्दू