तुलसीराम
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'मुर्दहिया' के कुछ अंश

  • 14 फरवरी 2015

दलित विचारकर प्रोफ़ेसर तुलसीराम का लंबी बीमारी के बाद शुक्रवार सुबह निधन हो गया. वह जाने माने अंतरराष्ट्रीय संबंधों के प्रोफ़ेसर थे.

प्रोफ़ेसर तुलसीराम अंतराराष्ट्रीय संबंधों के अध्येता थे. दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में वे यही विषय पढ़ाते थे.

सुनिए उनकी पुस्तक 'मुर्दहिया' के कुछ अंश राजेश जोशी की आवाज़ में.