शंकर राव पुजारी
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कुश्ती की 'रनिंग कमेंट्री' सुनी है!

महाराष्ट्र में एक आदमी ने कुश्ती को देखने से ज़्यादा सुनने की चीज़ बना दिया है. ये हैं 65 वर्षीय शंकर राव पुजारी.

अपनी गरजती आवाज़ में जब वो कुश्ती की कमेंट्री करते हैं तो हज़ारों की भीड़ के लिए न सिर्फ़ कुश्ती और मज़ेदार हो जाती है, बल्कि लोग दम साधे देखते रहते हैं.

उनके मोहक अंदाज की कमेंट्री कौन नहीं सुनना चाहता होगा. उन्होंने 'रनिंग कमेंट्री' जुमले को नए मायने दे दिए हैं.

बीबीसी हिंदी की संवाददाता रूपा झा ने इसे खुद महसूस किया. पूरी वीडियो देखें.