लेफ्टिनेंट जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा और लेफ्टिनेंट जनरल नियाज़ी
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'71 की लड़ाई के असली हीरो थे जग्गी अरोड़ा'

1971 में भारतीय सेना ने दो हफ़्ते से भी कम समय में न सिर्फ़ पाकिस्तान के 93000 हज़ार सैनिकों को हथियार डालने पर मजबूर किया बल्कि विश्व मानचित्र पर एक नए देश का जन्म हुआ – बांग्लादेश.

भारत का ये सैन्य अभियान इतिहास के पन्नों मे हमेशा के लिए दर्ज हो गया.

इस जीत के सूत्रधार थे पूर्वी कमान के सेनापति लेफ़्टिनेंट जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा. अगर वो जीवित होते तो 16 फ़रवरी को 100 साल के हो गए होते.

उनकी जन्म शताब्दी पर जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा को याद कर रहे हैं रेहान फ़ज़ल विवेचना में.