प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

गर्भवती कर्मचारियों से क्यों होता है भेदभाव?

महाराष्ट्र की एक अदालत ने एक टीवी चैनल को आदेश दिया है कि गर्भवती होने के बाद नौकरी से निकाली गईं उनकी एक पत्रकार को वापस नौकरी पर रखा जाए और बकाया वेतन भी दिया जाए.

साल 2012 में इस पत्रकार के गर्भवती होने के कुछ समय बाद ही टीवी चैनल ने ख़राब काम को वजह बताते हुए से उन्हें काम से निकाल दिया.

पर पत्रकार ने इसे ग़लत बताते हुए कहा कि ऐसा उनके गर्भवती होने की वजह से किया गया. अब श्रम अदालत से उन्हें राहत मिली है.

हालांकि टीवी चैनल ने कहा है कि वो इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ अपील करेगा. ये एक वाक्या एक बड़ी परेशानी की ओर इशारा करता है.

बीबीसी संवादददाता दिव्या आर्य ने जानने की कोशिश की - कि क्या भारत में मां बनने वाली महिलाओं के ख़िलाफ़ कंपनियों का रुख अलग है?