BBC World Service LogoHOMEPAGE | NEWS | SPORT | WORLD SERVICE DOWNLOAD FONT | Problem viewing?
BBCHindi.com

पहला पन्ना
भारत और पड़ोस
खेल और खिलाड़ी
कारोबार
विज्ञान
आपकी राय
विस्तार से पढ़िए
हमारे कार्यक्रम
प्रसारण समय
समाचार 
समीक्षाएं 
आजकल 
हमारे बारे में
हमारा पता
वेबगाइड
मदद चाहिए?
Sourh Asia News
BBC Urdu
BBC Bengali
BBC Nepali
BBC Tamil
 
BBC News
 
BBC Weather
 
 आप यहां हैं: 
 ताज़ा समाचार
मंगलवार, 16 अप्रैल, 2002 को 16:55 GMT तक के समाचार
मिथकों में रचा-बसा टिंबकटू
ऊँटों के काफ़िले सहारा रेगिस्तान हो कर सोना ढोया करते थे
ऊँटों के काफ़िले सहारा रेगिस्तान हो कर सोना ढोया करते थे

टिंबकटू से जॉन बैक्स्टर

मिथकों में रचा-बसा शहर टिंबकटू वास्तव में इस दुनिया में न सिर्फ़ मौजूद है, बल्कि एक जीवंत शहर भी है.

अफ़्रीकी देश माली के उत्तरवर्ती हिस्से में स्थित टिंबकटू को भले ही दुनिया का अंत माना जाता रहा हो, पुराने समय में इसकी हैसियत महत्वपूर्ण व्यापार मार्गों के केंद्र के रूप में थी.


प्राचीन इस्लामी पांडुलिपियों का एक समृद्ध संग्रह है टिंबकटू में
मुस्लिम व्यापारी इस शहर हो कर पश्चिमी अफ़्रीका से सोना यूरोप और मध्य-पूर्व ले जाते थे, जबकि उनकी वापसी नमक और अन्य उपयोगी वस्तुओं के साथ होती थी.

और इस फलते-फूलते व्यापार ने टिंबकटू को उस ज़माने के धनी शहरों में ला खड़ा किया.

एक किंवदंती तो यह भी है कि प्राचीन माली राष्ट्र के नरेश कंकन मोउसा ने चौदहवीं सदी में काहिरा के शासकों को इतनी भारी मात्रा में स्वर्णजड़ित उपहार दिए कि सोने की क़ीमत मुँह के बल गिर गई.

बताते हैं कि उस ज़माने में टिंबकटू में सोने और नमक की क़ीमत बराबर हुआ करती थी.

रहस्य

मुस्लिम व्यापारियों और यूरोपीय यात्रियों ने टिंबकटू के शानो-शौकत की ख़बर दुनिया भर में फैलाई.

लेकिन टिंबकटू की ख्याति पुराने समय में एक धार्मिक केन्द्र के रूप में भी थी. शहर इस्लाम का एक महत्वपूर्ण केन्द्र था और गैरमुस्लिमों, मसलन यूरोपीय यात्रियों के लिए शहर में टिकना वर्जित था.

संभवत: इसी कारण शहर बाहरी दुनिया के लिए धीरे-धीरे एक रहस्य बनता गया.

और यह रहस्यावरण अभी तक पूरी तरह हटा नहीं लगता है.

पतन का आरंभ

लेकिन सोलहवीं और सत्रहवीं सदी में अटलांटिक महासागर के व्यापार मार्ग के रूप में उभरने के साथ ही '333 संतों के नगर' टिंबकटू का पतन शुरू हो गया.


बुरे वक़्त से गुजर रहे टिंबकटूवासी शांतिपूर्ण सहअस्तित्व की मिसाल पेश करते हैं.
आज का टिंबकटू असहनीय गर्मी और बालू के टिब्बों वाला एक निर्जन शहर भर रह गया है.

माली के इस इलाक़े के गवर्नर के अनुसार बाहरी दुनिया से टिंबकटू का संपर्क मात्र बलुआ सड़कों के ज़रिए है, जहाँ दस्युओं का आतंक है.

हालांकि कहने को टिंबकटू में एक हवाई अड्डा भी है, लेकिन हवाई यात्रा के इच्छुक यात्रियों को कई बार कई दिनों तक विमान का इंतज़ार करना पड़ता है.

टिंबकटू का व्यापार संपर्क दक्षिणी माली के बजाय पड़ोसी देश मौरिटानिया से ज़्यादा है.

मोप्ती शहर से टिंबकटू से 10 किलोमीटर दूर स्थित नाइजर नदी के पत्तन पर खचाखच भरी नौकाओं को पहुँचने में कई दिन लगते हैं.

लेकिन तमाम कठिनाइओं के बावजूद टिंबकटू के आकर्षण के मारे हज़ारों पर्यटक इस रहस्मय शहर की ओर खिंचे चले आते हैं.

और इस कारण टिंबक्टु के सैकड़ों युवकों ने गाइड के रूप में रोज़गार पाया है.

प्राचीन धरोहर

बुरे समय से गुजर रहे इस प्राचीन शहर में अब भी पर्यटकों के लिए काफ़ी कुछ है. टिंबकटू के सांकोर विश्विद्यालय से पढ़े हज़ारों विद्वानों ने एक समय संपूर्ण पूर्वी अफ़्रीका में इस्लाम को फैलाया था. यह विश्वविद्यालय अब भी भारीं संख्या में छात्रों को आकर्षित कर रहा है.

साढ़े छह सौ साल से भी ज़्यादा पहले मिट्टी-गारे से निर्मित विशालकाय जिंगरेबर मस्जिद भी उसी बुलंदी से क़ायम है.

अनेक प्राचीन स्थापत्य आकर्षणों के बीच टिंबकटू में पर्यटकों की सुविधा के लिए एक इंटरनेट कैफ़े भी है.

माली में टिंबकटू की ख्याति एक ऐसे शहर के रूप में है, जहाँ विभिन्न समुदाय के लोग शांतिपूर्ण सहअस्तित्व की मिसाल प्रस्तुत करते रहे हैं.
 
 
इंटरनेट लिंक्स
लोनली प्लेनेट-माली पेज
बीबीसी अन्य वेब साइट की विषय सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है
ताज़ा समाचार
बग़दाद में दो अमरीकी मरे
फ़लस्तीन में फिर सत्ता संघर्ष?
हेडेन ने तोड़ा लारा का रिकॉर्ड
नाथन एस्टल ने शतक बनाया
तस्वीर भेजी और चकमा दिया
पूर्व गोरखा सैनिक मुक़दमा हारे
कैदियों के हक में उठी आवाज़







BBC copyright   ^^ हिंदी

पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल और खिलाड़ी
कारोबार | विज्ञान | आपकी राय | विस्तार से पढ़िए
 
 
  कार्यक्रम सूची | प्रसारण समय | हमारे बारे में | हमारा पता | वेबगाइड | मदद चाहिए?
 
 
  © BBC Hindi, Bush House, Strand, London WC2B 4PH, UK