'अफ़ग़ान रणनीति सही'

अफ़ग़ानिस्तान में ब्रितानी सैनिकों के मारे जाने की बढ़ती घटनाओं के बीच प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन ने वहाँ अपनी सरकार की रणनीति का बचाव किया है.

Image caption अफ़ग़ानिस्तान में ब्रितानी सैनिकों पर हमले बढ़े हैं

हालाँकि उन्होंने स्वीकार किया कि पिछले कुछ दिन काफ़ी मुश्किल भरे रहे हैं. लेकिन उनके मुताबिक़ अफ़ग़ानिस्तान में मौजूद ब्रितानी कमांडर ये कह रहे हैं कि वे अपने लक्ष्य में सफल हो रहे हैं.

गॉर्डन ब्राउन ने कहा कि इन लक्ष्यों में अगस्त के चुनाव से पहले हेलमंद प्रांत में लोगों की सुरक्षा व्यवस्था बेहतर करना और अल क़ायदा को रोकना शामिल हैं.

सिर्फ़ शुक्रवार को 24 घंटे के अंदर अफ़ग़ानिस्तान में आठ ब्रितानी सैनिक मारे गए थे. हालत ये है कि इराक़ से ज़्यादा अफ़ग़ानिस्तान में ब्रितानी सैनिक मारे जा चुके हैं.

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हाल में मारे गए ब्रितानी सैनिकों को श्रद्धांजलि दी है और अफ़ग़ानिस्तान में ब्रिटेन की भूमिका की सराहना की.

उन्होंने कहा, "ग्रेट ब्रिटेन ने गठबंधन में एक अहम भूमिका निभाई है. हम अफ़ग़ानिस्तान को अल क़ायदा की शरणस्थली नहीं बनने दे सकते. हम जानते हैं कि आने वाले समय में संघर्ष और कड़ा होगा. हमें अभी लंबा सफ़र तय करना है."

दूसरी ओर ब्रितानी प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन ने यह भी कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में कार्रवाई का मक़सद ब्रिटेन में आतंकवादी गतिविधियों को रोकना है.

संबंधित समाचार