ईरान में भीषण विमान दुर्घटना

विमान का मलबा
Image caption ईरान में दुर्घटनाग्रस्त विमान की ये तस्वीर प्रेस टीवी से ली गई हैं.

ईरान में सरकारी समाचार एजेंसी के मुताबिक एक यात्री विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया है. जिसमें 168 लोग मारे गए हैं.

एक ईरानी अधिकारी ने कहा कि विमान के टुकड़े-टुकड़े हो गए और चालक दल समेत सभी लोगों के मारे जाने की आशंका है.

सरकारी टेलीविज़न के मुताबिक विमान क़ाज़विन प्रांत में जन्नतबाद गाँव के पास गिरा. अग्निशमन दल के एक अधिकारी ने बताया है कि जैसे ही विमान ज़मीन पर गिरा उसमें विस्फोट हो गया.

कैस्पियन एयरलाइंस का ये विमान ईरान की राजधानी तेहरान से आर्मीनिया के शहर येरेवन जा रहा था.

प्रेस टीवी के मुताबिक ईरान के उड्डयन संगठन प्रवक्ता ने कहा है, "7908 कैस्पियन विमान उड़ान भरने के 16 मिनट बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया. विमान ने अंतरराष्ट्रीय इमाम ख़मेनेई हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी."

दुर्घटना के कारणों के बारे में पता नहीं चला है लेकिन बीबीसी संवाददाता का कहना है कि ईरान में विमान दुर्घटनाओं का इतिहास रहा है.

यह रुस में बना तुपोलोव विमान था जिसने राजधानी तेहरान के इमाम ख़ुमैनी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी. विमान मध्य एशियाई देश अर्मीनिया की राजधानी इरीवान जा रहा था.

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि विमान बहुत तेज़ी से आकर ज़मीन से टकराया और उसमें ज़ोरदार धमाका हुआ जिसकी वजह से दूर-दूर तक विमान के टुकड़े बिखर गए. ईरान में सरकारी टीवी चैनल प्रेस टीवी उस जगह की तस्वीरें दिखाई हैं जहाँ ये विमान गिरा, विमान के गिरने से एक बड़ा सा गड्ढा बन गया है. विमान पर सवार किसी व्यक्ति के जीवित बचने की आशा नहीं है. तस्वीरों में मलबे से उठता धुआँ भी दिखाई देता है. दुर्घटना के कारण का पक्के तौर पर पता नहीं चल सका है लेकिन विमान जिस तेज़ी से नीचे गिरा है यही माना जा रहा है कि संभवतः उसके इंजन ने काम करना बंद कर दिया था.

नागरिक उड्डयन सुरक्षा के मामले में ईरान का रेकॉर्ड काफ़ी ख़राब माना जाता है, इसकी मुख्य वजह ये है कि अमरीकी प्रतिबंध के कारण ईरान को विमानों के कल-पुर्जे हासिल करने में बहुत दिक्कतें आती हैं और उसके ज़्यादातर विमान पुराने पड़ चुके हैं. ईरान की विमान सेवाओं के पास ज्यादातर रूसी और यूक्रेनी विमान हैं जिनमें से कई दशकों पहले ख़रीदे गए थे.

संबंधित समाचार