उत्तर कोरिया की नई पहल

उत्तर कोरिया

दक्षिण कोरिया के प्रति लचीला रुख़ अख़्तियार करते हुए उत्तर कोरिया ने कहा है कि वो अपने देश की सीमाएं फिर से खोलने के लिए तैयार है ताकि पर्यटकों और परिवारों के आवागमन का रास्ता फिर से बने.

यानी दक्षिण कोरिया से पर्यटकों के लिए उत्तर कोरिया तक आने जाने का रास्ता तो खुलेगा ही, साथ ही उन लोगों को भी दक्षिण कोरिया से उत्तर कोरिया जाने का मौक़ा मिलेगा, जिनके रिश्तेदार और पारिवर के सदस्य उत्तर कोरिया में हैं.

दोनों देशों के बीच तनाव के कारण सीमाएं बंद थीं और इससे सबसे ज़्यादा पर्यटन उद्योग और दोनों ओर के परिवार प्रभावित हो रहे थे.

ये घोषणा उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग इल की दक्षिण कोरिया की प्रमुख कंपनी हुंडई के प्रमुख के साथ बैठक के बाद हुई.

बड़ा निवेश

दरअसल हुंडई ने दोनों देशों के बीच व्यापार और पर्यटन के क्षेत्र में बड़ा निवेश किया है.

उत्तर कोरिया की हुंडई से इस बारे में बैठक हुई. बातचीत के बाद उत्तर कोरिया ने सीमाओं में इस ढील का प्रस्ताव रख दिया है.

हालाँकि दक्षिण कोरिया की ओर से अभी तक इस प्रस्ताव पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. उत्तर कोरिया ने यह भी कहा है कि वो कैसांग औद्योगिक पार्क वाले क्षेत्र के लिए भी नियमों में ढील दी जा सकती है.

दोनों देशों के संबंध पिछले साल दक्षिण कोरिया में नई कट्टरपंथी सरकार के सत्ता में आने के बाद तनावपूर्ण हो गए थे.

संबंधित समाचार