बर्नांकी ही रहेंगे केंद्रीय बैंक प्रमुख

बेन बर्नांकी
Image caption आर्थिक संकट से निबटने के लिए बेन बर्नांकी के उठाए गए क़दमों की सराहना की गई है

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बेन बर्नांकी को दूसरी बार अमरीकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिज़र्व का प्रमुख नियुक्त कर दिया है.

बर्नांकी का चार साल का पहला कार्यकाल अगले वर्ष जनवरी में समाप्त हो रहा है.

ओबामा ने बेन बर्नांकी का कार्यकाल बढ़ाने की घोषणा अपनी गर्मी की छुट्टियाँ मनाते समय कीं.

आर्थिक संकट से निबटने के लिए बेन बर्नांकी के उठाए गए कदमों की काफ़ी सराहना हुई थी और ओबामा का मानना है कि इन उपायों से आर्थिक संकट का असर कम हुआ है.

अपनी घोषणा में बराक ओबामा ने कहा कि बेन बर्नांकी ने 1929 की महान आर्थिक मंदी के दोहराए जाने को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

ओबामा ने कहा,"बेन ने ध्वस्त होती वित्तीय व्यवस्था को शांत रहकर बुद्धिमानी से साहसपूर्ण फ़ैसले लेकर और बंधी-बंधाई परिपाटी से बाहर की जो सोच दिखाई उसने सरपट गिरती अर्थव्यवस्था को थामने में सहायता की है".

ओबामा ने आगे कहा,"उन्होंने जो क़दम उठाए उनसे हमारी अर्थव्यवस्था हाशिए से वापस लौट आई है. ये ऐसे उपाय थे जो काम कर रहे हैं".

उपाय

उल्लेखनीय है कि अमरीका में बैंकों को डूबने से बचाने के लिए केंद्रीय बैंक और वित्त मंत्रालय ने अक्टूबर 2008 में 700 अरब डॉलर का एक पैकेज तैयार किया था.

इसके बाद बाज़ार में लेन-देन को बढ़ावा देने और अर्थव्यवस्ता में तेज़ी लाने के लिए अतिरिक्त तीन ख़रब डॉलर का भी ख़र्च किया गया था.

अमरीका में ऐसी अटकलें चल रही थीं कि शायद बेन बर्नांकी की जगह केंद्रीय बैंक के प्रमुख की कुर्सी पर लैरी समर्स को लाया जा सकता है जो अमरीकी राष्ट्रपति के प्रमुख आर्थिक सलाहकार हैं.

मगर वाशिंगटन स्थित बीबीसी संवाददाता का कहना है कि बर्नांकी के हटाए जाने से बाज़ार में बहुत नकारात्मक संकेत जाता जहाँ बहुत लोग ऐसा मानते हैं कि बेन बर्नांकी ने अपने दम-खम पर अर्थव्यवस्था को डूबने से बचा लिया.

बेन बर्नांकी को राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश के कार्यकाल में वर्ष 2005 में केंद्रीय बैंक का अध्यक्ष बनाया गया था.

उनके दूसरे कार्यकाल के राष्ट्रपति के फ़ैसले को अब अमरीकी सेनेट से मंज़ूरी लेनी होगी.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है