गाज गिरी बंदरों पर...

ज़ाम्बिया
Image caption ज़ाम्बिया में राष्ट्रपति पर पेशाब करना बंदरों को भारी पड़ा

ज़ाम्बिया में क़रीब दो सौ बंदरों को राष्ट्रपति निवास से खदेड़ दिया गया है.

ज़ाम्बिया के राष्ट्रपति रूपिया बांदा के आदेश पर ऐसा किया गया है.

राष्ट्रपति बांदा जब एक संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे तभी एक बंदर ने उन पर पेशाब कर दी.

इसके फौरन बाद राष्ट्रपति बांदा ने बंदरों को राजधानी लुसाका से बाहर निकाल कर पार्कलैंड ले जाने का निर्देश दिया.

एक अधिकारी के मुताबिक लगभग 61 बंदरों को मंडा वंगा वनस्पति उद्यान ले जाया जा चुका है.

इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राष्ट्रपति ने मज़ाक में कहा कि वो बंदरों को नेता प्रतिपक्ष को भेंट कर देंगे.

उन्होंने ये भी कहा कि शायद ये घटना उनके लिए कोई ख़ुशख़बरी लेकर आए.

एएफ़पी समाचार एजेंसी के अनुसार मंडा वंगा बॉटनिकल ट्रस्ट के निदेशक बिल थॉमस ने बताया कि कुछ ही दिन पहले राष्ट्रपति ने बंदरों को हटाने और कहीं और ले जाने के लिए ट्रस्ट से अनुरोध किया था और अब तक 61 बंदरों को पकड़ कर उद्यान भेजा जा चुका है.

रायटर्स समाचार एजेंसी के अनुसार राष्ट्रपति निवास के परिसर में हिरण और चिड़ियों की कई प्रजातियां रहती हैं.