'आतंकवाद पर बात करना चाहता हूँ'

शाह महमूद क़ुरैशी
Image caption क़ुरैशी ने कहा कि वे भी 'आतंकवाद' पर बात करना चाहते हैं

भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच होने वाली बातचीत से पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा है कि वे भारतीय विदेश मंत्री एसएस कृष्णा के साथ हर मुद्दे पर चर्चा करने को तैयार हैं.

उन्होंने बीबीसी हिंदी को बताया कि 'यदि भारत हाफ़िज़ सईद के बारे में बात करना चाहता है या आतंकवाद पर बात करना चाहता है तो पाकिस्तान भी आतंकवाद पर बात करने का इच्छुक है.'

न्यूयॉर्क में बीबीसी हिंदी से बात करते हुए पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा कि वे न केवल भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा के साथ हर मुद्दे पर बात करेंगे बल्कि वे ख़ुद भी कुछ मुद्दे लाएँगे जिन पर वे चाहेंगे कि दोनों पक्षों के बीच बातचीत हो.

दोनों विदेश मंत्रियों के बीच ये बैठक संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र के दौरान न्यूयॉर्क में होनी है.

'कई मुद्दों पर बात करना चाहता हूँ'

शाह महमूद कुरैशी का कहना था,"भारत के विदेश मंत्री जो भी मुद्दा उठाना चाहते हैं वह उनका हक़ है. वे हाफ़िज़ सईद के बारे में बात करना चाहते हैं...आतंकवाद के बारे में बात करना चाहते हैं...बिलकुल करें. मैं भी करना चाहता हूँ...मैं भी बहुत सारे मुद्दों पर बात करना चाहता हूँ."

उनका कहना था, "मैं बी अपने मुद्दे लेकर आउँगा वे भी अपनी बात करेंगे. तो देखिए उम्मीद है कि एक सकारात्मक बैठक होगी."

उधर भारत के विदेश मंत्री एसएम कृष्णा पहले ही कह चुके हैं कि उन्हें अपनी इस बैठक से 'कोई विशेष उम्मीद नहीं है क्योंकि पाकिस्तान ने मुंबई हमलों के लिए ज़िम्मेदार लोगों के ख़िलाफ़ कार्रवाई नहीं की है.'

उन्होंने ये भी कहा है कि केवल 'ईमानदारी और गंभीरता' से ही दोनों देशों के बीच सार्थक बातचीत हो सकती है.