उत्तर कोरिया बातचीत के लिए तैयार

  • 6 अक्तूबर 2009
किम जोंग-इल और वेन जियाबाओ
Image caption पहले हो रही चर्चाओं का आयोजक भी चीन ही था

उत्तर कोरिया ने कहा है कि वह अपने परमाणु कार्यक्रम को लेकर छह देशों के बीच होने वाली अंतरराष्ट्रीय वार्ता फिर से शुरु करने के लिए तैयार है.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग इल ने ये विचार प्योंगयोंग की यात्रा कर रहे चीनी नेता वेन जियाबाओ के समक्ष व्यक्त किए हैं.

लेकिन उत्तर कोरिया ने कहा है कि वार्ता में उसकी वापसी, अमरीका के साथ उसकी बातचीत की प्रगति पर भी निर्भर करती है.

उधर अमरीका का कहना है कि वह उत्तर कोरिया के साथ द्विपक्षीय बातचीत के लिए तैयार है.

अमरीकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा है कि अमरीका का प्रयास है कि उत्तर कोरिया को इस बात के लिए राज़ी किया जा सके कि वह कोरियाई प्रायद्वीप को पूरी तरह से परमाणु हथियार मुक्त बनाने के रास्ते पर चले.

अमरीका का कहना है कि बहुपक्षीय वार्ता ही इस लक्ष्य को प्राप्त करने का सबसे अच्छा रास्ता है.

चीन इस वार्ता का आयोजक रहा है और इस साल के शुरु में उत्तर कोरिया ने इस वार्ता से हटने का फ़ैसला कर लिया था.

इस बीच दक्षिण कोरियाई सरकार के एक सूत्र के हवाले से रॉयटर्स समाचार एजेंसी ने कहा है कि कहा है कि उत्तर कोरिया योंगबोंग परमाणु संयंत्र के पुनर्निर्माण के अंतिम दौर में है.

सूत्र का कहना है कि इस परमाणु संयंत्र में इस साल के शुरु से काम चल रहा है.

उत्तर कोरिया की समाचार एजेंसी केसीएनए के अनुसार किम जोंग इल ने कहा है, "उत्तर कोरिया और अमरीका के बीच के संबंधों को किसी भी तरह शांतिपूर्ण रिश्तों में बदलना होगा."

उन्होंने कहा है कि प्रायद्वीप को परमाणु हथियार से मुक्त करने के लिए उत्तर कोरिया प्रतिबद्ध है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है