पोलंस्की को नहीं मिली ज़मानत

रोमन पोलंस्की
Image caption रोमन पोलंस्की चर्चित फिल्मकार औऱ ऑस्कर विजेता

चर्चित फ़िल्म निर्देशक और ऑस्कर पुरस्कार विजेता रोमन पोलंस्की को अमरीकी वारंट के सिलसिले में स्विट्ज़रलैंड की अदालत से ज़मानत नहीं मिली.

स्विट्ज़रलैंड के न्याय मंत्रालय के प्रवक्ता फॉल्को गैली ने कहा है कि ज़मानत के बाद पोलंस्की के भाग जाने का ख़तरा देखते हुए ये फ़ैसला किया गया.

गैली का कहना था, “पोलंस्की को ज़मानत पर छोड़ने में ख़तरा ज़्यादा था, क्योंकि ज़मानत या किसी भी और तरीके से उन्हें छोड़े जाने पर ये गारंटी नहीं दी जा सकती थी कि वे अमरीका प्रत्यर्पण की कार्रवाई में उपस्थित रह पाएंगे.”

पोलंस्की को 1977 में 13 वर्षीय एक लड़की के साथ ग़ैर क़ानूनी यौन संबंध क़ायम करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन सज़ा सुनाए जाने से पहले ही उन्होंने 1978 में अमरीका छोड़ दिया था.

76 साल के पोलंस्की को पुलिस ने 26 सितंबर को उस समय गिरफ्तार किया था, जब वे स्विट्ज़रलैंड में आयोजित ज़्यूरिख फ़िल्म समारोह में एक लाइफ़टाइम एचीवमेंट अवार्ड लेने पहुँचे थे.

रोमन पोलंस्की के वकीलों ने स्विट्ज़रलैंड की आपराधिक मामलों की सुनवाई करने वाली सबसे बड़ी अदालत से भी पोलंस्की को रिहा करने की अपील की है.

वर्ष 2002 में अपनी फ़िल्म 'दि पियानिस्ट' के लिए ऑस्कर पुरस्कार जीत चुके पोलंस्की की गिरफ्तारी पर हॉलीवुड के ऊंचे ह्ल्कों में विरोध के कई स्वर गूंजे, लेकिन पिछले हफ्ते कैलिफोर्निया के गवर्नर अर्नाल्ड श्वात्ज़नेगर ने कहा कि एक बड़े फिल्मकार की हैसियत से पोलंस्की को ऐसे मामलों में विशेष रियायती दर्जा नहीं दिया जा सकता.

पिछले कुछ सालों से पोलंस्की ये कोशिश कर रहे थे कि उन पर लगे आरोप ख़ारिज कर दिए जाएं. उनका कहना था इस मामले की सुनवाई कर रहे मूल जज ने उनकी अपील पर छूट देने की बात की थी, लेकिन वे बाद में मुकर गए और अब वे जीवित नहीं हैं.

संबंधित समाचार