अफ़ग़ानिस्तान में ब्रितानी सैनिक बढ़ेंगे

  • 15 अक्तूबर 2009
ब्रितानी सैनिक

बीबीसी को जानकारी मिली है कि अमरीकी प्रशासन ने अफ़ग़ानिस्तान में अपने सैनिकों की तादाद बढ़ाने का मन बना लिया है.

बीबीसी के कूटनीतिक मामलों के संपादक का कहना है कि अगले कुछ दिनों में यह घोषणा की जा सकती है.

हालांकि यह काम कबतक हो जाएगा इसे लेकर कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिल सकी है. उधर इस बाबत अमरीकी विदेश विभाग ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में और सैनिक भेजने के मुद्दे पर कोई फैसला नहीं लिया गया है.

इससे पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन ने घोषणा की कि उनकी ओर से पाँच सौ अतिरिक्त सैनिकों को अफ़ग़ानिस्तान भेजा जा रहा है.

बुधवार को यह जानकारी उन्होंने ब्रिटेन के संसद के समक्ष दी.

बढ़ेगी तैनाती

इस तरह ब्रिटेन से अफ़ग़ानिस्तान में जाकर तालेबान विरोधी अभियान का हिस्सा बनने वाले ब्रितानी सैनिकों की तादाद अब बढ़कर साढ़े नौ हज़ार हो जाएगी.

अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी नेतृत्ववाली नैटो सेना को और सैनिक देने की घोषणा करते हुए ब्राउन ने कहा कि इस नई तैनाती के साथ कुछ शर्तें भी रखी जाएंगी.

मसलन, अफ़ग़ानिस्तान सरकार को यह वादा करना होगा कि वे अपने स्थानीय सैनिकों की संख्या में बढ़ोत्तरी करेंगे, उन्हें प्रशिक्षण देंगे और उनकी नियुक्तियां करेंगे.

ग़ौरतलब है कि अफ़ग़ानिस्तान में सैनिकों की तैनाती बढ़ाने की घोषणा ऐसे समय में की जा रही है जबकि अफ़ग़ानिस्तान में मारे गए ब्रितानी सैनिकों की संख्या और मोर्चे पर तैनात सैनिकों के सामने संसाधनों की कमी के कारण ब्रितानी लोगों में रोष व्याप्त हो रहा है.

पर पिछले दिनों ब्रितानी प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में और पाकिस्तान में आतंकवाद का खात्मा दुनिया के बाकी देशों के साथ साथ ब्रिटेन की सुरक्षा के लिए भी ज़रूरी है.

संबंधित समाचार