दुनिया की प्राचीनतम घड़ी

प्राचीनतम घड़ी
Image caption प्राचीनतम घड़ी के साथ ड्यूक ऑफ लॉरैंस, कोसीमो प्रथम

कला विशेषज्ञों को लगता है कि उन्होंने दुनिया की सबसे पुरानी घड़ी दिखाने वाली एक पुरानी पेंटिंग खोज निकाली है.

इटली के कोसीमो प्रथम और दे मेदिची परिवार के पहले ड्यूक ऑफ फ्लोरेंस इस चित्र में एक सोने की घड़ी के साथ दिखाए गए हैं.

लंदन का विज्ञान संग्रहालय फिलहाल साढ़े चार सौ साल पुराने इस चित्र की जांच कर रहा है.

संग्रहालय के अध्यक्ष ने अपनी इस खोज को फ्लोरेंस की उफिज़ी गैलरी भेजा है, जहां पुनर्जागरण काल के विशेषज्ञ पूरी छानबीन के बाद अपने नतीजे जारी करेंगे.

जहां तक चित्र में दिखाई गई घड़ी की बात है, सन 1500 के बाद, जर्मनी में पहली बार घड़ियों का ज़िक्र आया था.

विशेषज्ञ घड़ीसाज़ों के मुताबिक पुनर्जागरण काल के चित्रकार मास्टर मासो दा सान फ्रियानो का बनाया ये चित्र कोई 1560 के आसपास का हो सकता है.

विज्ञान संग्रहालय के अध्यक्ष रौब स्किटमोर का कहना है, “चित्र में दिखाई गई घड़ी दक्षिण जर्मनी की लगती है. कोसीमो विज्ञान और तकनीक के बड़े मुरीद थे, तो बहुत संभव है कि उस समय आई नई घड़ी उनके पास हो, और वह उसे बड़े फ़ख़्र से दिखाना चाहते हों. उन दिनों विज्ञान और कला का बड़ा प्रभाव था और इस चित्र में दोनों का नज़दीकी संबंध भी दिखाई दिया है.”

किसी दानदाता से ली हुई ये पेंटिंग संग्रहालय के पास पिछले 33 साल से है.

इस चित्र की पहचान के बारे में पहले कोई अंदाज़ा नहीं था, लेकिन रौबर्ट स्किटमोर जब इसकी जांच कर रहे थे तो उन्हें चित्र के कैनवस के पीछे वो सील दिखाई दी जो मेदिची कोट की बाज़ू पर हुआ करती थी. इस बारे में रौबर्ट स्किटमोर का कहना था, “हमारी इस पेंटिंग में कोसीमो की आयु कोई 41 साल की लगती है और उनकी ये छवि, सन 1574 की उनकी छवि से बख़ूबी मिलती है, जो उपलब्ध है.”

इस समय ये चित्र संग्रहालय की मैज़रिंग टाइम गैलरी में दिखाया जा रहा है जहां घडियों का सबसे बड़ा संग्रह मौजूद है.

संबंधित समाचार