अनामंत्रित अतिथि ओबामा से भी मिले

सलाही दंपत्ति
Image caption बराक ओबामा ने सलाही दंपति का इस तरह स्वागत किया था

अधिकारियों ने स्वीकार किया है कि पिछले मंगलवार प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के रात्रि भोज में घुस आए अनामंत्रित अतिथि सलाही दंपति राष्ट्रपति बराक ओबामा से भी मिले थे.

व्हाइट हाउस ने जो तस्वीरें जारी की हैं उसमें मिशेल सलाही को बराक ओबामा से हाथ मिलाते हुए दिखाया गया है.

अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसी के निदेशक मार्क सुलिवान ने स्वीकार किया है कि सही प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया.

उन्होंने कहा कि जो कुछ हुआ उससे वे बेहद चिंतित और शर्मिंदा हैं.

इस घटना की जाँच के बाद कहा गया है कि हालांकि सलाही दंपति की जाँच की गई थी लेकिन फिर भी उन्हें भीतर नहीं आने देना चाहिए था.

लेकिन तारिक़ और मीशेल सलाही ने कहा है कि उन्हें इस भोज में जाने का पूरा अधिकार था.

इससे पहले एक और ख़ुफ़िया अधिकारी जिम मैकिन ने कहा था कि इस दंपति के ख़िलाफ़ अभियोग लगाया जा सकता है.

उल्लेखनीय है कि तारिक़ और मीशेल सलाही को राजकीय भोज में आने का निमंत्रण नहीं मिला था लेकिन उन्होंने बाद में भोज की अपनी तस्वीरें फ़ेसबुक पर डाली थी.

यह ओबामा के राष्ट्रपति काल में पहली बार किसी राजकीय भोज का आयोजन था जो भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के सम्मान में दिया गया था.

जाँच

Image caption उपराष्ट्रपति जो बाइडन के साथ भी तस्वीरें खिंचवाई थीं सलाही दंपति ने

ख़ुफ़िया अधिकारी सुलिवान ने कहा है कि इस घटना की अंदरूनी जाँच के बाद लगता है कि जहाँ शुरुआती जाँच होती है वहाँ स्थापित प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया और यह नहीं देखा गया कि ये दोनों आमंत्रितों की सूची में नहीं थे.

उन्होंने कहा, "हालांकि ये दोनों सारी सुरक्षा जाँच से गुज़रे लेकिन उन्हें भीतर जाने से रोक देना चाहिए था. यह हमारी ग़लती है."

इस बीच व्हाइट हाउस के एक प्रवक्ता ने कहा है कि राष्ट्रपति को 'ख़ुफ़िया सेवाओं पर पूरा भरोसा है'.

वॉशिंगटन पोस्ट के अनुसार पति-पत्नी 'पोलो खेलने वाले सोशलाइट' हैं. मीशेल सलाही एक टेलीविज़न शो में भी आ चुकी हैं.

इस दंपति के प्रवक्ता ने कहा है कि इस भोज में शामिल होकर दोनों गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं.

संबंधित समाचार