इराक़ में धमाके, 127 मारे गए

बग़दाद
Image caption इराक़ में अक्तूबर में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 155 लोग मारे गए थे

इराक की राजधानी बग़दाद में सिलसिलेवार कार बम धमाकों में 127 लोग मारे गए हैं और 440 अन्य घायल हुए हैं.

इससे पहले इराक़ में इस साल अक्तूबर में हुए सिलसिलेवार धमाकों में 155 लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हुए थे.

लेकिन इराक़ी सरकार के आंकड़ों के अनुसार अब तक ये अनुमान लगाया जा सकता है कि इराक़ में पिछले 18 महीने में हिंसक घटनाओं में कमी आई है.

'अल क़ायदा ज़िम्मेदार'

शहर में चार बम विस्फोट लगभग एक ही साथ हुए. इन धमाकों में सरकारी इमारतों या विश्वविद्यालयों को निशाना बनाया गया है.

सबसे पहले बम धमाका दौरा इलाक़े के पुलिस स्टेशन में हुआ जहाँ रहने वाली अधिकतर जनसंख्या सुन्नी समुदाय की है.

इराक़ के एक राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मौवाफ़ाक़ अल रुब्बई ने बीबीसी को बताया कि 'इन धमाकों के लिए अल क़ायदा ज़िम्मेदार है.'

ग़ौरतलब है कि एक ही दिन पहले इराक़ी संसद ने नए चुनावी क़ानून को पारित किया है और इराक़ की प्रेसिडेंसी काउंसिल ने चुनाव की तारीख़ अगल साल छह मार्च तय की है.

उनका कहना था कि इन धमाकों का लक्ष्य ये दिखाना है कि सरकार अपने लोगों की हिफ़ाज़त नहीं कर सकती.

उनका ये भी कहना था कि इन धमाकों का मकसद अगले साल होने वाले चुनावों में इराक़ियों को मतदान में भाग लेने से डराना है.

संबंधित समाचार