प्रशिक्षण के दौरान दिया जन्म

चीली के लिए ओलंपिक में खेल चुकी भारोत्तोलक एलिज़ाबेथ पॉबलेच ने एक बच्चे को जन्म दिया है.

लेकिन ये कोई साधारण प्रसव नहीं था, ये कुछ विशेष ही परिस्थितियों में हुआ.ख़ास बात ये रही कि जब बच्चे का जन्म हुआ तो एलिज़ाबेथ प्रशिक्षण ले रही थीं और उन्हें पता तक नहीं था कि वे गर्भवती हैं.

ब्राज़ील में रहने वाली 22 वर्षीय एलिज़ाबेथ ने कहा है कि उन्हें तबीयत थोड़ी ख़राब ज़रूर लग रही थी लेकिन इस बात का ज़रा भी अंदाज़ा उन्हें नहीं थी कि वे माँ बनने वाली हैं.

बच्चा तीन महीने पहले ही पैदा हो गया और वो अस्पताल में है जहाँ उसे सघन चिकित्सा केंद्र में रखा गया है.

हैरान करने वाला जन्म

साओ पाउलो में अस्पताल ने इस बात का खंडन किया है कि जब एलिज़ाबेथ वहाँ इलाज का खर्च नहीं उठा पाईं तो उन्हें अस्पताल से निकाल दिया गया.

वे एक प्रतियोगिता के लिए आठ दिसंबर को प्रशिक्षण ले रही थीं जब उनकी तबीयत खराब हो गईं.

इसके कुछ देर बाद ही उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया जिसका वज़न केवल 1.15 किलोग्राम है और कद 34 सेंटीमीटर है.

जिम के मुख्य ट्रेनर हॉराचियो रेस ने कहा है कि बच्चे के जन्म ने सबको हैरत में डाल दिया.

एएफ़पी के मुताबिक, “एक हफ़्ते पहले मैं चील में एक प्रतियोगिता के दौरान जज था.ये लड़की वहाँ हिस्सा लेने आई हुई थी. सब कुछ ठीक रहा और उसने प्रतियोगिता जीती भी थी. मैने सिर्फ़ ये देखा था कि एलिज़ाबेथ काफ़ी ताकतवर और अच्छी कद-काठी वाली है.”

एलिज़ाबेथ पॉबलेट को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. रिपोर्टों के मुताबिक उन्होंने मीडिया से कहा है कि वे इलाज का खर्चा नहीं उठा सकती.

बीजिंग ओलंपिक में 75 किलोग्राम वर्ग में वे 12वें स्थान पर रही थीं.