सदमे में है उमर के परिजन

उमर फ़ारुक अब्दुलमुतल्ल
Image caption उमर के परिवार वालों ने उमर के व्यवहार पर हैरानी जताई है

क्रिसमस के दिन अमरीका जा रहे एक विमान में कथित रुप से धमाका करने की कोशिश करने वाले नाइजीरिया के नागरिक उमर फ़ारुक अब्दुलमुत्तलिब के परिवार वालों का कहना है कि उनका व्यवहार 'उनके स्वभाव' से मेल नहीं खाता है.

उनका कहना है कि 23 वर्षीय उमर के व्यवहार से उन्हें अभी तक कोई चिंता नहीं हुई थी.

जब उमर ने अपने परिवार से बातचीत बंद कर दी तब दो महीने पहले उनके पिता अलहाजी उमारु मुत्तलिब ने सुरक्षा एजेंसियों को चौकस किया था.

इस बीच ब्रिटेन का कहना है कि उमर को उन्होंने ऐसे व्यक्तियों की सूची में रखा था जिन पर सुरक्षा कारणों से नज़र रखी जा रही थी. इसका मतलब यह हुआ कि वे ब्रिटेन नहीं जा सकते थे, हालांकि दूसरे देश की हवाई यात्रा के दौरान वे ब्रिटेन से गुज़र सकते थे.

ब्रिटेन के गृह मंत्री एलेन जॉनसन का कहना है कि 14 महीने पहले जब उन्होंने एक फ़र्जी कॉलेज में पढ़ाई करने के लिए आवेदन दिया था तब ब्रिटेन ने उन्हें वीज़ा देने से इनकार कर दिया था.

उमर के परिवार वालों ने बताया कि जब वे 26 दिसंबर को सबेरे जगे, तब नीदरलैंड्स के एम्सटर्डम से अमरीकी शहर डेट्रॉइट आ रहे एक यात्री विमान में बम विस्फोट करने की नाकाम कोशिश के बारे में उन्हें ख़बर मिली, जिसमें उनके पुत्र के कथित तौर पर शामिल होने की बात थी.

जाँच में सहयोग

उनका कहना था, "जब विदेश में पढ़ाई करते समय उमर ने परिवार वालों से बातचीत बंद करने का निर्णय लिया और लापता हो गए तब छह महीने पहले उनके व्यवहार के बारे में नाइजीरिया और अमरीका के अधिकारियों को हमने जानकारी दी थी."

उमर के परिजनों ने एक बयान में कहा, "हम उम्मीद कर रहे थे वे उमर का पता लगा लेंगे और घर वापस भेज देंगे. हम उनकी जाँच का इंतज़ार कर रहे थे, लेकिन हमें उस दिन यह दुखद समाचार मिला. "

परिवार वालों का कहना है कि उमर का लापता होना और परिवार वालों से बातचीत बंद कर देना उनके स्वभाव के पूरी तरह विपरीत है और यह व्यवहार हाल ही में उनके स्वभाव से जुड़ा है.

मुत्तलिब परिवार का कहना है कि वो जांच में पूरा सहयोग देंगे. उमर के पिता नाइजीरिया के जाने माने व्यवसायी हैं.

अमरीकी अधिकारियों का कहना है कि उमर यमन से इथियोपिया और फिर घाना आए जिसके बाद वो नाइजीरिया पहुँचे, जहाँ से वो एम्सटर्डम पहुँचे और यहीं से वो अमरीकी विमान में सवार हुए थे जिसमें उन्होंने धमाका करने की कोशिश की.

संबंधित समाचार