सोमाली लुटेरों का क़हर जारी

सोमाली लुटेरे
Image caption कुल 14 जहाज़ और तीन सौ नाविक सोमाली लुटेरों के कब्ज़े में हैं

सोमाली समुद्री लुटेरों ने सोमालिया के तट के पास दो और जहाज़ों का अपहरण कर लिया है जिससे इस सप्ताह वहाँ अपहृत होनेवाले जहाज़ों की संख्या बढ़कर चार हो गई है.

लुटेरों का निशाना बननेवाले जहाज़ों में से एक जहाज़ इंडोनेशिया का है. प्रमोनी नामक इस जहाज़ पर रसायन लदा था और वह भारत जा रहा था.

दूसरा जहाज़ ब्रिटेन का है. एशियन ग्लोरी नामक इस जहाज़ पर मोटरगाड़ियाँ थीं जिन्हें सिंगापुर से सउदी अरब के शहर जेद्दा भेजा जा रहा था.

दोनों जहाज़ों पर अलग-अलग देशों के लगभग 50 लोग सवार थे.

इस सप्ताह सोमवार को भी ब्रिटेन के एक जहाज़ का समुद्री लुटेरों ने अपहरण कर लिया था.

दो नए जहाज़ों के अपहरण के बाद अब ऐसे जहाजों की संख्या 14 हो गई है जिन्हें सोमाली लुटेरों ने फिरौती के लिए बंधक बनाया हुआ है.

सोमाली लुटेरों ने अभी तक कम-से-कम 300 लोगों को फिरौती के लिए बंधक बनाया हुआ है.

भारतीय बंधक

ब्रिटिश अधिकारियों ने बताया है कि एशियन ग्लोरी पर कोई ब्रिटिश नागरिक नहीं था.

बताया जा रहा है कि इस जहाज़ के चालक दल में भारतीय नागरिक भी शामिल हैं. इसपर बुल्गारिया, यूक्रेन और रोमानिया के नागरिक भी सवार हैं.

दूसरे जहाज़ के बंधकों में इंडोनेशिया के 17 और चीन के पाँच नागरिक बताए जा रहे हैं.

बताया गया है कि सभी बंधकों की हालत ठीक है. बुल्गारियाई विदेश मंत्रालय ने कहा है कि एशियन ग्लोरी पर सवार उनके देश के नागरिकों ने अपने रिश्तेदारों से फ़ोन पर बात की है.

अपहरण के समय और स्थान के बारे में निश्चित जानकारी नहीं मिल सकी है.

समझा जा रहा है कि इन जहाज़ों के सोमाली तट पर पहुँचने में तीन दिन लगेंगे और प्रायः लुटेरे वहीं से फिरौती के लिए सौदे करते हैं.

संबंधित समाचार