टोगो की फ़ुटबॉल टीम पर हमला

  • 9 जनवरी 2010
टोगो का एक प्रशंसक
Image caption टोगो को अपने ग्रुप में तीन मैच खेलने थे

अंगोला में टोगो की राष्ट्रीय फ़ुटबॉल टीम को ले जा रही बस पर कुछ बंदूकधारियों ने मशीनगन से गोलियाँ बरसाई हैं. इसमें बस के ड्राइवर की मौत हो गई है और कम से कम छह खिलाड़ी सहित कई लोग घायल हुए हैं.

अधिकारियों का कहना है कि घायलों में से कुछ की हालत गंभीर है.

इन खिलाड़ियों को अफ़्रीका कप के मैचों के लिए ले जाया जा रहा था.

अधिकारियों का कहना है कि गोलीबारी की घटना अंगोला के तेल भंडार वाले इलाक़े कैबिंडा में हुई है जहाँ विद्रोही आज़ादी की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे हैं.

अंगोला सरकार ने इसे 'आतंकवादी घटना' क़रार दिया है.

लगातार गोलीबारी

मैनचेस्टर सिटी के लिए खेलने वाले इमैन्युअल एडेबैयॉर भी इस बस में सवार थे लेकिन वे सकुशल हैं. मैनचेस्टर सिटी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि एडेबैयॉर इस 'घटना से भयभीत हैं' लेकिन उन्हें कोई चोट नहीं आई है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार कैबिंडा मामलों के मंत्री बेंटो बेंबे ने कहा है, "यह एक आतंकवादी घटना है."

लेकिन 'अफ़्रीका कप ऑफ़ नेशन्स' के अधिकारियों ने हमलावरों को हथियारबंद डकैत कहा है.

टोगो के स्ट्राइकर थॉमस डोसेवी ने फ़्रांस के आरएमसी रेडियो को बताया कि कई खिलाड़ी 'बुरी तरह से घायल' हैं.

उन्होंने कहा, "मैं नहीं जानता कि हम पर गोलियाँ क्यों बरसाई गईं. हम गोलियों से बचने के लिए 15 मिनटों तक बस की सीटों के नीचे छिपे रहे."

टीम के डॉक्टर सहित जो लोग घायल हुए हैं, उनकी पहचान सार्वजनिक नहीं की गई है.

टोगो को अपने ग्रुप में घाना, बुर्कीनो फ़ासो और आइवरी कोस्ट के ख़िलाफ़ मैच खेलना था. उनका पहला मैच घाना के ख़िलाफ़ था.

आयोजकों का कहना है कि वे इस बात से विस्मित हैं कि खिलाड़ियों ने विमान से वहाँ पहुँचने की जगह सड़क मार्ग से आने का फ़ैसला क्यों किया.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार