इराक: बम धमाकों में 40 शिया मारे गए

करबला
Image caption करबला की सड़क पर हज़ारों शिया तीर्थयात्री

इराक़ के करबला शहर में शिया समुदाय को निशाना बनाकर हुए बम हमलों में कम से कम 40 लोग मारे गए हैं और 140 से ज़्यादा घायल हो गए हैं.

शिया मुसलमानों के सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक समारोह अरबईन (जिसे उर्दू-फ़ारसी में चेहलूम कहते हैं) के अंतिम दिन दस लाख शिया मुसलमान इमाम हुसैन की दरगाह पर एकत्र हुए हैं.

इससे पहले इसी हफ़्ते हुए दो हमलों में 60 श्रद्धालु मारे गए थे.

पुलिस का कहना है कि गुरुवारो को हुए धमाकों में से दो सबसे भीषण धमाके तब हुए जब श्रद्धालु एक पुल को पार कर रहे थे. इसी दौरान विस्फोटकों से लदी दो कारों में धमाके किए गए.

पूर्वी बग़दाद में हुए तीसरे हमले में शिया श्रद्धालुओं को ले जा रही एक बस के पास धमाका हुआ.

करबला के गवर्नर आमलहेद्दीन अल-हीर ने समाचार एजेंसी एएफ़पी के साथ बातचीत में कहा है कि वे मानते हैं इन वारदातों को अल क़ायदा चरमपंथियों और प्रतिबंधित संगठन बाथ पार्टी के सदस्यों ने अंजाम दिया है.

ये हमले ऐसे समय में हुए हैं जब करबला यात्रा को देखते हुए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है.

इन हमलों के कारण इराक़ में मार्च के माह में होने वाले संसदीय चुनावों से पहले सांप्रदायिक हिंसा होने का ख़तरा बढ़ गया है.

संबंधित समाचार