नेपाल में वरिष्ठ पत्रकार की हत्या

चैनल नेपाल
Image caption दस साल पहले शाह के चैनल पर प्रतिबंध लगा था.

नेपाल की राजधानी काठमांडू में मोटरसाइकिल सवार नकाबपोश लोगों ने स्पेस टाइम नेटवर्क के प्रमुख जमीम शाह की गोली मार कर हत्या कर दी.

फ़्रांसीसी दूतावास के पास ये घटना हुई. गोली लगने के बाद शाह को पास के एक अस्पताल ले जाया गया जहाँ उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई.

शाह के चैनल, नेपाल टीवी पर दस साल पहले तब अस्थायी तौर पर प्रतिबंध लगा जब उस पर बॉलीवुड के एक स्टार के बयान को ग़लत तरीके से पेश करने के आरोप लगे थे.

दिसंबर 2000 में नेपाल टीवी ने एक रिपोर्ट चलाई जिसके मुताबिक ऋतिक रोशन ने कहा है कि "मैं नेपाल और नेपाल के लोगों से घृणा करता हूँ."

इसके बाद नेपाल में हिंसा भड़की और जो दंगे हुए उसमें चार लोगों की मौत हो गई और भारतीय दुकानों और व्यवसायों पर हमले हुए.

कश्मीरी मूल के नेपाली जमीम शाह पर भारत सरकार ने आरोप लगाया कि उनका संबंध भारत में अपराध करने वाले एक बड़े गिरोह और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से है.

शाह ने इन आरोपों का खंडन किया था.

एक वक्त ऐसा था जब जमीम शाह नेपाल में दो अखबार चलाते थे जो अब बंद हो चुके हैं और अपने सैटेलाइट नेटवर्क के माध्यम से विदेशी चैनलों के प्रसारण में उनका एकाधिकार था.

पुलिस का कहना है कि वो मामले की जांच कर रही है लेकिन अभी तक उसे हमले के पीछे क्या उद्देश्य रहा होगा, इसका अंदाज़ा नहीं लगा है.

कहा जा रहा है कि पुलिस के पास उस मोटरसाइकिल का नंबर है जो हमलावरों ने इस्तेमाल किया था.

संबंधित समाचार