ऑनलाइन डेटिंग: भारत, पाक में ख़ासा उत्साह

इंटरनेट यूजर्स
Image caption ये सर्वेक्षण 19 देशों में लगभग 11 हज़ार इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों के बीच कराया गया

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस ने 19 देशों में इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले लगभग 11 हज़ार लोगों में किए सर्वेक्षण में पाया कि इनमें एक तिहाई लोग इंटरनेट को गर्लफ़्रेंड या बॉयफ़्रेंड बनाने का अच्छा माध्यम मानते हैं.

वेलेंटाइन डे को क़रीब आए इस सर्वेक्षण के नतीजे दर्शाते हैं कि पाकिस्तान के 60 प्रतिशत और भारत के 59 प्रतिशत इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले साथी तलाशने के लिए इंटरनेट को एक बेहतरीन ज़रिया मानते हैं.

भारत और पाकिस्तान के अलावा जिन देशों ने इंटरनेट को गर्लफ़्रेंड या बॉयफ़्रेंड की खोज का अच्छा ज़रिया बताया उनमें घाना और फ़िलीपींस भी शामिल हैं.

घाना के 47 प्रतिशत और फ़िलीपींस के 42 प्रतिशत वेब इस्तेमाल करने वालों को इस मक़सद के लिए इंटरनेट भाता है.

इसके विपरीत अमरीका (21 प्रतिशत), दक्षिण कोरिया (16 प्रतिशत), ब्रिटेन (28 प्रतिशत) और फ़्रांस (27 प्रतिशत) जैसे देशों के लोग इंटरनेट पर पार्टनर खोजने के बारे में ज़्यादा उत्साहित नहीं दिखे.

पुरुषों में अधिक उत्साह

इंटरनेट के ज़रिए साथी तलाशने के मामले में महिलाओं के मुक़ाबले पुरुष ज़्यादा उत्साहित हैं. जहाँ 33 प्रतिशत पुरुष इस माध्यम को गर्लफ़्रेंड या बॉयफ़्रेंड तलाशने के लिए अच्छा माध्यम मानते हैं, वहीं 27 प्रतिशत महिलाएं इससे सहमत दिखती हैं.

जहाँ 18 से 24 साल के बीच के उम्र के 36 प्रतिशत इंटरनेट को साथी तलाशने के लिए सही माध्यम बताते हैं वहीं 65 साल के ऊपर के 23 प्रतिशत इंटरनेट यूजर्स ने भी इसे अच्छा ज़रिया माना.

लेकिन अधिक शिक्षित लोगों में इंटरनेट के ज़रिए पार्टनर खोजने के बारे में उत्साह कम दिखा.

Image caption वेलेंटाइन डे से ठीक पहले इस सर्वेक्षण के नतीजे आए हैं

जहाँ उच्च शिक्षा पाने वाले यानी विश्वविद्यालय के स्तर तक पढ़े हुए इंटरनेट यूजर्स में 28 प्रतिशत ऑनलाइन डेटिंग के पक्ष में हैं वहीं हाई स्कूल तक ही शिक्षित इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों में 36 प्रतिशत ने साथी खोजने के लिए इसे अच्छा माध्यम माना.

ये सर्वेक्षण बीबीसी के लिए अंतरराष्ट्रीय सर्वेक्षण कराने वाली एजेंसी ग्लोबलस्कैन ने 30 नवंबर 2009 से 26 जनवरी 2010 के बीच किया है.

ग्लोबस्कैन के रिसर्च डायरेक्टर सैम माउंटफ़ोर्ड का कहना था, "ये दिखाता है कि इंटरनेट दुनिया में लाखों लोगों की ज़िंदगी में कितनी अहम भूमिका निभाता है. विशेष तौर पर विकासशील देशों में यह केवल काम करने, खरीदारी करने या दोस्तों से संपर्क साधने का ही माध्यम नहीं बल्कि अपना जीवनसाथी खोजना का भी उचित ज़रिया है."

ये सर्वेक्षण आठ मार्च से शुरु हो रही बीबीसी की श्रंखला 'सुपर पॉवर' का हिस्सा है जिसमें इंटरनेट के प्रभाव के बारे में कार्यक्रम और रिपोर्टें श्रोताओं, दर्शकों और पाठकों तक पहुँचाई जाएँगी.

संबंधित समाचार