इंटरनेट के पर कतरने का प्रोग्राम

  • 6 मार्च 2010
वेबसाईट (फ़ाइल फ़ोटो)
Image caption युवा पीढ़ी इंटरनेट से काफ़ी जुड़ी है

अफ़ग़ानिस्तान के सूचना मंत्री सैयद मख़दूम रहीन ने इंटरनेट को सेंसर करने की घोषणा की है.

सूचना मंत्री ने काबुल में एक समाचार सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसी वेबसाइटों के ख़िलाफ़ उपाय किए जाएंगे जो सरकार के मुताबिक़ चरमपंथ को बढ़ावा देता है.

उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी वेबसाइटों को सेंसर कर दिया जाएगा जो हिंसा का गुणगान करती हैं, अश्लीलता परोसती हैं और गैम्बलिंग (जुए) को बढ़ावा देती हैं.

उन्होंने कहा कि इंटरनेट पर ये लगाम जल्दी ही लगाई जाएगी.

लेकिन इसके लिए उन्होंने कोई तारीख़ मुक़रर नही की कि आख़िर इस पर कब से अमल किया जाएगा.

रहीन ने कहा कि ये क़दम नैतिक्ता के मद्दे-नज़र लिया गया है, ख़ास तौर से युवा वर्ग में नैतिक्ता को ध्यान में रखते हुए.

बहरहाल, इंटरनेट अफ़ग़ानिस्तान में उतना प्रचलित नहीं है जितना कि अफ़ग़ानिस्तान के मुक़ाबले अन्य विकसित देशो में.

फिर भी बहुत से अफ़ग़ानियों को यह सुविधा उनके दफ़्तरों में उपलब्ध है या फिर साइबर और इंटरनेट कैफ़े में.

संबंधित समाचार