यह बच्चों का खेल नहीं है

  • 4 मार्च 2010

अमरीका में अधिकारी इस बात की जाँच कर रहे हैं कि कैसे न्यूयॉर्क के जेएफ़के हवाईअड्डे पर एक बच्चे को विमानों को निर्देशित करने दिया गया.

जेएफ़के अमरीका के सबसे व्यस्त हवाईअड्डों में से एक है.

एक ऑडियो टेप के ज़रिए ये बात सामने आई कि एक बच्चा जनवरी में उड़ान भरने को तैयार कई पायलटों को निर्देश दे रहा था.

बातचीत के दौरान ये बच्चा कह रहा है, “जेटब्लू 171 डिपारचर से संपर्क करें.“

इसके जवाब में पायलट कहता है, “ओवर को डिपारचर जेटब्लू 171, बहुत अच्छा काम किया.”

माना जा रहा है कि ये लड़का अपने पिता के साथ आया था जो एक प्रमाणित ट्रैफ़िक कन्ट्रोलर है.

अजीब घटना

टेप में बाद में एक व्यक्ति हँसते हुए कह रहा है, “यही होता है जब बच्चे स्कूल से बाहर आ जाते हैं.”

एक अन्य संवाद में ये बच्चा टेप पर बोल रहा है, “एमएम 4-0-3 कॉन्टेक्ट डिपारचर. एडियॉस, एमिगो.”

इसके जवाब में पायलट कहता है, “एडियॉस, एमिगो.”

टेप सुन कर ऐसा लग रहा है कि पायलटों को कोई फ़र्क नहीं पड़ रहा है कि एक बच्चा उन्हें निर्देश दे रहा है.

ये घटना 17 फ़रवरी को हुई जब न्यूयॉर्क में बहुत सारे बच्चों को एक हफ़्ते की छुट्टियाँ थीं.

अभी ये पता नहीं चला है कि बच्चे की उम्र और नाम क्या है और न ही उसके साथ बैठे व्यक्ति के बारे में पता चला है.

अमरीका की फ़ेडरल एविएशन ऐडमिनीस्ट्रेशन ने बयान में कहा है, “इस तरह का बर्ताव स्वीकार्य नहीं है और ये उस जज़्बे को नहीं दर्शाता जिसकी कर्मचारियों से उम्मीद की जाती है.”

एजेंसी ने ज़्यादा जानकारी नहीं दी है. राष्ट्रीय एयर ट्रैफ़िक कन्ट्रोलर्स एसोसिएशन का कहना है कि ये घटना उन मानकों को नहीं दर्शाती जो कर्मचारी अपने लिए स्थापित करते हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए